जनहित में जारी एक आवश्यक सूचना गोण्डा लाइव न्यूज एक प्रोफेशन वेब मीडिया है। जो समाज में घटित किसी भी घटना-दुघर्टना , समसामायिक घटना , राजनैतिक घटना क्रम , भ्रष्ट्राचार , सामाजिक समस्या , खोजी खबरे , संपादकीय , ब्लाग , सामाजिक हास्य , व्यंग , लेख , खेल ,कविता ,कहानी , किसान जागरूकता सम्बन्धित लेख आदि से सम्बन्धित खबरे ही प्रकाशित करती है। यदि आप अपना नाम देश-दुनिया में विश्व स्तर पर ख्याति स्थापित करना चाहते है। और अपने अन्दर की छुपी हुई प्रतिभा को उजागर कर एक नई पहचान बनाना चाहते है। तो ऐसे में आप आज से ही नही बल्कि अभी से ही बनिये गोण्डा लाइव न्यूज के एक सशक्त सहयोगी। और अपने आस-पास घटित होने वाले किसी भी प्रकार की घटनाक्रम पर रखे पैनी नजर। और उसे झट लिख भेजिए गोण्डा लाइव न्यूज के Email-news101gonda@gmail.com पर या सम्पर्क करें दूरभाष- 9452184131 -8303799009 पर । सादर धन्यवाद

13 अक्तू॰ 2019

जायफल के गुणकारी फायदे, उपयोग और नुकसान

The nutritional benefits, uses and disadvantages
Image SEO Friendly

अगर खाने की बात करें, तो भारतीय व्यंजन के स्वाद का मुकाबला शायद ही कोई कर सकता है। तरह-तरह के मसाले, जो न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाते हैं, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी होते हैं। उन्हीं मसालों में से एक है जायफल। लगभग हर रसोई में पाया जाने वाला यह मसाला न सिर्फ खाने के स्वाद को दोगुना करता है, बल्कि औषधीय गुणों से भी भरपूर होता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम जायफल के स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानकारी देंगे। हम न सिर्फ जायफल के फायदे, बल्कि जायफल का उपयोग करने का तरीका भी बताएंगे। जायफल के लाभ व जायफल के नुकसान जानने से पहले यह पता करते हैं कि आखिर जायफल क्या है।
जायफल क्या है ? – 
जायफल एक मसाला है, जो जायफल के पेड़ (वैज्ञानिक रूप से मिरिस्टिका फ्रेग्रेंस) से मिलता है। जायफल के पेड़ से दो मसाले मिलते हैं जायफल और जावित्री। मिरिस्टिका के बीज को जायफल कहा जाता है। वहीं, यह बीज बीजोपांग (यह कुछ पौधों में बीज को ढकता है, आप इसे बीज को ढकने वाला छिलका कह सकते हैं) से ढका होता है, जिसे जावित्री कहते हैं। फिलहाल, इस लेख में हम मुख्य तौर पर जायफल के बारे में बता रहे हैं। आगे हम आपको स्वास्थ्य के लिए जायफल के फायदे बताएंगे।
जायफल के फायदे – 
जायफल खाने में तो स्वादिष्ट होता ही है, लेकिन अपने औषधीय गुणों के कारण इसका महत्व और बढ़ जाता है। बिना देर करते हुए नीचे पढ़ें जायफल के फायदे।
01-अनिद्रा के लिए जायफल के फायदे-
Image SEO Friendly
आजकल कई लोगों को अनिद्रा यानी रात को नींद न आने की समस्या होती है। पूरे दिन काम, घर और अन्य कई चीजों के कारण तनाव की परेशानी होने लगती है और उसका नतीजा अनिद्रा। ऐसे में जायफल का सेवन काफी लाभकारी हो सकता है। इसके असर से अनिद्रा की समस्या दूर हो सकती है । सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध में चुटकी भर जायफल मिलाकर पीने से बेहतर नींद आ सकती है।
02-पाचन शक्ति के लिए जायफल के फायदे
इन दिनों कई लोग वक्त के अभाव में या घर से दूर होने के कारण सिर्फ बाहर का खाना खाते हैं। ऐसे में ज्यादा तेल-मसाले वाले खाने से पाचन से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती हैं। इस स्थिति में जायफल का सेवन पेट की समस्याओं जैसे – डायरिया व एसिडिटी को ठीक करता है। इससे पाचन शक्ति यानी डाइजेशन की प्रक्रिया में भी सुधार होता है ।
03-दर्द कम करने के लिए जायफल के फायदे
जायफल का उपयोग दर्द व ऐंठन की समस्या के लिए भी किया जा सकता है। खासतौर पर जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द के लिए। जायफल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी और औषधीय गुण दर्द से राहत दिला सकते हैं । सिर्फ जायफल ही नहीं, बल्कि जायफल का तेल भी आप मांसपेशियों या जोड़ों के दर्द के लिए उपयोग कर सकते हैं। यहां तक कि गठिये की समस्या को भी कम कर सकते हैं ।
04-गठिया के लिए जायफल के फायदे
Image SEO Friendly
बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। कई लोगों को गठिया की भी समस्या हो जाती है। हालांकि, कभी-कभी कम उम्र में भी गठिया हो सकता है। ऐसे में शुरुआत से ही इस पर ध्यान देना जरूरी है। गठिया होने के कई कारण हैं और उन्हीं में से एक सूजन भी है। अगर जायफल का सेवन या उसका तेल लगाया जाए, तो गठिया के सूजन व दर्द से राहत मिल सकती है। जायफल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो गठिया से राहत दिला सकता हैं ।
05-कैंसर से बचाव के लिए जायफल के फायदे
एक वक्त था जब कैंसर की बीमारी गिने-चुने लोगों में ही सुनने को मिलती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं है। अभी के वक्त में कैंसर सर्दी-जुकाम की तरह आम बीमारी बन चुकी है। इससे बचाव के लिए जीवनशैली और खानपान का ठीक रहना बहुत जरूरी है। कई बार घरेलू उपाय भी कैंसर के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकते हैं। जायफल उन्हीं घरेलू उपचारों में से एक है। जायफल का एसेंशियल ऑयल एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य कर सकता है और कैंसर को रोक सकता है। इसके अलावा, अध्ययन के अनुसार जायफल पेट के कैंसर से बचाव कर सकता है और इसका कारण इसमें मौजूद एंटी-माइक्रोबियल गतिविधि है । एक अन्य अध्ययन से पता चला है कि अपने दैनिक आहार में जायफल को शामिल करने से कैंसर के खिलाफ चिकित्सीय प्रभाव पड़ सकता है ।
06-डायबिटीज के लिए जायफल के फायदे
Image SEO Friendly
डायबिटीज की समस्या आजकल कई लोगों में देखी जा सकती है। सिर्फ बड़े ही नहीं, बल्कि युवा और बच्चे भी इस बीमारी से जूझ रहे हैं। इस स्थिति में जरूरी है कि वक्त रहते इस पर ध्यान दें। इसके लिए आप जायफल का सेवन कर सकते हैं। जायफल को ट्राइटेरपेन (triterpenes) का समृद्ध स्रोत माना गया है, जो एक यौगिक है । ट्राइटेरपेन में एंटी-डायबिटिक गुण मौजूद होते हैं । जायफल न सिर्फ मोटापे को कम कर सकता है, बल्कि टाइप-2 डायबिटीज को भी कम कर सकता है ।
07-दांतों के लिए जायफल के फायदे
शरीर के अन्य अंगों के साथ-साथ दांतों का ध्यान रखना भी जरूरी है। ज्यादा मीठा या गलत खाद्य पदार्थ का सेवन करने से दांत खराब होने लगते हैं और उनमें कैविटी होने लगती है। ऐसे में जरूरी है अपने दांतों का ध्यान रखने की, इस स्थिति में जायफल काफी फायदेमंद हो सकता है। जायफल एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर है और यह मुंह के स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी हो सकता है । जायफल युक्त टूथपेस्ट या पाउडर मुंह के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।
08-आंखों के लिए जायफल के फायदे
आजकल कई लोगों को आंखों से संबंधित समस्याएं होने लगती हैं। ऐसे में सही वक्त पर ध्यान देना और अपनी आंखों का ख्याल रखना जरूरी है। जायफल का सेवन लाभकारी हो सकता है। यह प्रोस्टाग्लैंडीन (prostaglandin) नामक हार्मोन के उत्पादन में रोक लगाकर, आंखों की समस्या को कम कर सकता है। इसके सेवन के बाद भी अगर आपकी आंख में तकलीफ हो, तो डॉक्टर से संपर्क करें ।
09-दिमाग के लिए जायफल के फायदे
Image SEO Friendly
आजकल लगभग हर किसी को कोई न कोई तनाव है। यहां तक कि बच्चे भी इससे अछूते नहीं है। कुछ व्यक्तियों में तो दौरे तक पड़ने के लक्षण होते हैं। ऐसे में जायफल का सेवन या जायफल का तेल काफी लाभकारी हो सकता है। जायफल में एंटीकॉन्वलसेंट (anticonvulsant) गुण होते हैं, जो दौरे पड़ने से बचाव कर सकता है । यह तनाव को कम कर दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन को सुधारता है और एकाग्रता को बेहतर कर सकता है । इसमें ऐसे यौगिक होते हैं, जो मूड को अच्छा करने में मदद करते हैं ।
10-रोग-प्रतिरोधक क्षमता के लिए जायफल के फायदे
किसी भी व्यक्ति के लिए उसकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता का सही होना बहुत जरूरी है। अगर ऐसा नहीं होता है, तो व्यक्ति जल्द बीमार पड़ सकता है। कई लोग मौसम में थोड़ा-सा बदलाव आते ही बीमार या सर्दी-जुकाम के शिकार हो जाते हैं, क्योंकि उनकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। ऐसे में जायफल का सेवन इम्यून पावर बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है। इसमें विटामिन-ए, सी व ई जैसे पौष्टिक तत्व हैं, जो इम्युनिटी को बढ़ाते हैं ।
11-कोलेस्ट्रॉल के लिए जायफल के फायदे
जब शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है, तो कई समस्याएं शुरू हो जाती है। हार्ट अटैक, किडनी की समस्या, आंखों की रोशनी कम होना आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में इस पर ध्यान देना बहुत जरूरी है। अगर जायफल का सेवन किया जाए, तो कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो सकता है। इसमें मौजूद एथेनॉलिक एक्सट्रैक्ट से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो सकता है । हालांकि, अभी तक इसका कोई ठोस प्रमाण नहीं है, लेकिन अगर इसका सही मात्रा में सेवन किया जाए, तो काफी हद तक फायदा हो सकता है। ध्यान रहे कि इस बारे में आप एक बार अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
12-वजन कम करने के लिए जायफल के फायदे
Image SEO Friendly
इन दिनों मोटापा लगभग हर दूसरे व्यक्ति की परेशानी है। लगातार बाहर का खाना, तैलीय खाद्य पदार्थ, सही वक्त पर न खाना और व्यायाम न करना इसके कारण हैं। ऐसे में शारीरिक गतिविधि और खाने-पीने का ध्यान रखना जरूरी है, साथ ही आपकी रसोई में कुछ ऐसे मसाले भी हैं, जो वजन कम करने में मदद कर सकते हैं। जायफल उन्हीं मसालों में से एक है। इसके सेवन से काफी हद तक वजन कम हो सकता है। जायफल और इसके सक्रिय घटक शरीर में न सिर्फ उन एजेंट का विकास करते हैं, जो मोटापे को कम कर सकते हैं, बल्कि टाइप-2 डायबिटीज के लिए भी लाभकारी हो सकते हैं। इतना ही नहीं यह चयापचय संबंधी विकारों (metabolic disorders) के लिए भी फायदेमंद हो सकता है ।
13-चिंता दूर करने के लिए जायफल का सेवन
दिन-प्रतिदिन लोगों में तनाव या चिंता की समस्या बढ़ती जा रही है। अगर सही वक्त पर इसका उपचार नहीं किया गया, तो आगे चलकर यह मानसिक रोग का कारण बन सकता है। इसके लिए आप जायफल का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि यह एंटी डिप्रेसेंट (anti–depressant) की तरह काम करता है। इस कारण आपको चिंता या तनाव की समस्या से राहत मिल सकती है ।
14-मूत्र संबंधी समस्या
कुछ लोग मूत्र को न रोक पाने की समस्या से पीड़ित होते हैं। यहां तक कि उनके न चाहते हुए भी मूत्र का रिसाव हो जाता है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे – उम्र का बढ़ना, गर्भावस्था या कोई बीमारी, ऐसे में इस पर ध्यान देना जरूरी है। इस बारे में आपका डॉक्टर से बात करना जरूरी है, साथ ही कुछ घरेलू नुस्खे भी आजमाएं। ऐसे में जायफल का सेवन अच्छा विकल्प हो सकता है । आप इसका सेवन पानी के साथ कर सकते हैं या फिर खाने में मसाले के तौर पर उपयोग कर सकते हैं।
15-कील-मुंहासों के लिए जायफल
Image SEO Friendly
त्वचा पर धूल-मिट्टी, प्रदूषण और कई अन्य कारणों से मुंहासे निकलना आम बात है। अगर ये मुंहासे ज्यादा हो रहे हों और इन पर ध्यान न दिया जाए, तो ये दाग भी छोड़ देते हैं। ऐसे में कई बार क्रीम व लोशन भी काम नहीं करती। इस स्थिति में घरेलू उपाय फायदेमंद साबित हो सकते हैं। घरेलू उपचार के तौर पर जायफल अच्छा विकल्प है। आप जायफल पाउडर से बना स्क्रब या फेसपैक लगा सकते हैं । जायफल में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जो कील-मुंहासों को कम करने में मदद कर सकते हैं । साथ ही इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होता है, जो मुंहासों की लालिमा और सूजन को कम कर सकता है।
कील-मुहांसों के लिए जायफल का फेस पैक
सामग्री :
जायफल पाउडर
शहद
बनाने और लगाने की विधि :
आप आवश्यकतानुसार जायफल पाउडर को शहद में मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं।
फिर सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें।
16-एक्जिमा के लिए जायफल
कई बार आपकी त्वचा पर संक्रमण हो जाते हैं और एक्जिमा उन्हीं संक्रमणों में से एक है। यह त्वचा पर जहां होता है, वहां की त्वचा रूखी व लाल हो जाती है और बार-बार खुजली की समस्या होती है। इसमें खाने-पीने का भी खास ध्यान दिया जाता है, क्योंकि कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे भी होते हैं जिससे यह बढ़ सकता है। एक्जिमा के लिए डॉक्टर की सलाह तो आप ले ही सकते हैं साथ ही जायफल का भी उपयोग कर सकते हैं ।
17-रिंकल्स के लिए जायफल
Image SEO Friendly
उम्र बढ़ती है, तो रिंकल्स यानी झुर्रियां होना सामान्य है, लेकिन कई बार कम उम्र में भी रिंकल की समस्या हो सकती है। इसके लिए कई बार लोग तरह-तरह की क्रीम और लोशन का भी उपयोग करते हैं, लेकिन उनका असर ज्यादा दिनों तक नहीं रहता है। इस स्थिति में आप जायफल का पैक लगा सकते हैं। जायफल में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो न सिर्फ रिंकल्स को कम कर सकते हैं, बल्कि दाग-धब्बों को भी कम कर सकते हैं । ऊपर जायफल के फायदे तो आप जान ही गए हैं, अब वक्त है इसके पौष्टिक तत्वों के बारे में जानने का।
जायफल का उपयोग –
Image SEO Friendly
अब जब आपको जायफल के फायदे और उसके पौष्टिक तत्वों की जानकारी मिल ही चुकी है, तो अब वक्त है जायफल को उपयोग करने की विधि जानने का। जायफल के लाभ तब और ज्यादा होंगे, जब उसका उपयोग सही तरीके से किया जाएगा।
01-अगर आपको मांसपेशियों या जोड़ों में दर्द की समस्या है, तो आप जायफल का तेल लगा सकते हैं।
02-आप खाने में मसाले के तौर पर जायफल का उपयोग कर सकते हैं।
03-अगर आपको सर्दी-जुकाम की परेशानी है या ठंड ज्यादा लगती है, तो आप जायफल का उपयोग कर सकते हैं, क्योंकि जायफल की तासीर गर्म होती है। आप चुटकीभर जायफल का पाउडर दूध में मिलाकर सेवन कर सकते हैं।
04-अगर आपको अनिद्रा की समस्या है, तो रात को सोने से कुछ देर पहले चुटकीभर जायफल पाउडर को शहद के साथ खाएं।
05-मुंहासे या दाग-धब्बे की समस्या है, तो जायफल पाउडर और शहद को मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें और इसे चेहरे पर लगाएं। फिर कुछ देर सूखने दें और बाद में साफ पानी से धो लें।
06-इसके अलावा, आप मुंह में छाले, बच्चों को सर्दी-जुकाम, फटी एड़ियां और ऐसे ही कई अन्य परेशानियों में भी जायफल का उपयोग कर सकते हैं।

नोट: आपको जायफल की कितनी मात्रा में लेनी है, उसके लिए किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर की सलाह लें। हर व्यक्ति का शरीर और उसकी जरूरत अलग-अलग होती है, इसलिए उसी हिसाब से इसका सेवन करें। अगर आपको या आपके शिशु को जल्दी किसी चीज के सेवन से एलर्जी हो जाती है या पहली बार जायफल का सेवन कर रहे हैं, तो एक बार डॉक्टर से जरूर पूछ लें। आइए, अब जायफल के कुछ साइड इफेक्ट्स भी जान लेते हैं।
जायफल के नुकसान –
हर चीज के फायदे और नुकसान दोनों होते हैं। ठीक उसी तरह जायफल के अगर फायदे हैं, तो कुछ नुकसान भी हैं।

01-जायफल की तासीर गर्म होती है, इसलिए गर्मियों में इसके सेवन से बचें।
02-जायफल का सेवन जरूरत से ज्यादा किया जाए, तो चक्कर आने की समस्या, घबराहट, पेट खराब, उल्टी व मतली जैसी परेशानियां हो सकती हैं।
03-गर्भवती महिला को जायफल का सेवन डॉक्टर से परामर्श करने के बाद करना चाहिए, क्योंकि यह गर्म होता है और पेट में पल रहे शिशु को नुकसान भी हो सकता है।
04-लोगों का कहना है कि कई बार जायफल का सेवन अधिक मात्रा में करने से ठीक वैसा ही असर होता है, जैसा किसी नशीले पदार्थ के सेवन से होता है।
05-इससे ड्राई माउथ की समस्या भी हो सकती है।

जायफल के नुकसान जानने के बाद आपको घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि किसी भी चीज का सेवन संतुलित मात्रा में करना ही ठीक होता है। जायफल के फायदे अनेक हैं, जिनमें से कुछ आपने ऊपर पढ़ें हैं। अगर अभी तक आपने जायफल का उपयोग शुरू नहीं किया है, तो अब भी देर नहीं हुई है जायफल के लाभ उठाने के लिए इसे अपने रोजमर्रा के जीवन में शामिल करें और अपना अनुभव हमारे साथ नीचे कमेंट में शेयर करें। अगर आप जायफल के फायदे के बारे में कुछ और भी जानते हैं, तो आप वो भी कमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने वास्तविक नाम का प्रयोग करे । नाइस,थैक्स,अवेसम जैसे शार्ट कमेन्ट का प्रयोग न करे। कमेन्ट सेक्शन में किसी भी प्रकार का लिंक डालने की कोशिश ना करे। यदि आप कमेन्ट पालिसी का प्रयोग नही करेगें तो ऐसे में आपका कमेन्ट स्पैम समझ कर डिलेट कर दिया जायेगा। धन्यवाद...

ब्लॉग-लिस्ट ब्राउसर