जनहित में जारी एक आवश्यक सूचना गोण्डा लाइव न्यूज एक प्रोफेशन वेब मीडिया है। जो समाज में घटित किसी भी घटना-दुघर्टना , समसामायिक घटना , राजनैतिक घटना क्रम , भ्रष्ट्राचार , सामाजिक समस्या , खोजी खबरे , संपादकीय , ब्लाग , सामाजिक हास्य , व्यंग , लेख , खेल ,कविता ,कहानी , किसान जागरूकता सम्बन्धित लेख आदि से सम्बन्धित खबरे ही प्रकाशित करती है। यदि आप अपना नाम देश-दुनिया में विश्व स्तर पर ख्याति स्थापित करना चाहते है। और अपने अन्दर की छुपी हुई प्रतिभा को उजागर कर एक नई पहचान बनाना चाहते है। तो ऐसे में आप आज से ही नही बल्कि अभी से ही बनिये गोण्डा लाइव न्यूज के एक सशक्त सहयोगी। और अपने आस-पास घटित होने वाले किसी भी प्रकार की घटनाक्रम पर रखे पैनी नजर। और उसे झट लिख भेजिए गोण्डा लाइव न्यूज के Email-news101gonda@gmail.com पर या सम्पर्क करें दूरभाष- 9452184131 -8303799009 पर । सादर धन्यवाद

9 अक्तू॰ 2019

'शस्त्र पूजा' को खड़गे ने बताया तमाशा, अमित शाह ने कहा- उन्हें इटली की संस्कृति की ज्यादा जानकारी है, भारत की नहीं



नयी दिल्ली : राफेल विमान के उड़ान भरने से पहले रक्षा मंत्री द्वारा शस्त्र पूजा की कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा कथित आलोचना को लेकर भाजपा ने बुधवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि उनको इटली की संस्कृति की ज्यादा जानकारी है, भारत की संस्कृति की नहीं.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रोहतक में पार्टी की रैली में कहा कि अभी-अभी मुझे पता चला कि कांग्रेस के खड़गे साहब ने बयान दिया है कि राफेल की शस्त्र पूजा का तमाशा करने की क्या जरूरत थी? उन्होंने कहा, लेकिन इसमें इनका दोष नहीं है, क्योंकि इनको इटली की संस्कृति की ज्यादा जानकारी है, भारत की संस्कृति की नहीं. भाजपा के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर कहा गया है, कांग्रेस को वायु सेना के आधुनिकीकरण से समस्या है, भारतीय परंपरा से समस्या है. उन्होंने कहा कि ऐसी पार्टी जो क्वात्रोच्चि को पूजती हो, स्वभाविक तौर पर उसे शस्त्र पूजा से समस्या होगी.

कैबिनेट की बैठक के बाद एक सवाल के जवाब में सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, कांग्रेस के बारे में क्या कहें. वह भटक गयी है. हर देश की अपनी परंपरा होती है, अपने तरीके से करते हैं. अपने देश (भारत) में विजयदशमी पर शस्त्र पूजा की परंपरा है. कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने हालांकि कहा कि टीवी पर जो आ रहा है, वैसा उन्होंने कुछ नहीं कहा है. उन्होंने कहा कि उन्होंने शस्त्र पूजा की आलोचना नहीं की और उनका यह कहना था कि विमान को आने में 6-8 महीने लगेंगे, ऐसे में वहां यह करने की क्या जरूरत थी, जब वह आ जाता तब करते.

गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को फ्रांस के मेरिनियाक में राफेल लड़ाकू विमान में उड़ान भरने से ठीक पहले नये विमान का शस्त्र पूजन किया और उस पर 'ओम' तिलक लगाया तथा पुष्प एवं एक नारियल चढ़ाया. इस अवसर पर उनके साथ भारतीय सशस्त्र बलों के वरिष्ठ प्रतिनिधि भी थे. सिंह ने कहा था, मैं हर साल लखनऊ में शस्त्र पूजन करता हूं और आज मैंने फ्रांस में यहां शस्त्र के रूप में राफेल की पूजा की. इस बीच शस्त्र पूजा करने पर कांग्रेस के भीतर भी विरोध के सुर सामने आ रहे हैं. टिकट बंटवारे को लेकर नाराज चल रहे मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरूपम ने कहा कि हमारे देश में शस्त्र पूजा की परंपरा है. खड़गे नास्तिक हैं इसलिए ऐसी बातें कर रहे हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने वास्तविक नाम का प्रयोग करे । नाइस,थैक्स,अवेसम जैसे शार्ट कमेन्ट का प्रयोग न करे। कमेन्ट सेक्शन में किसी भी प्रकार का लिंक डालने की कोशिश ना करे। यदि आप कमेन्ट पालिसी का प्रयोग नही करेगें तो ऐसे में आपका कमेन्ट स्पैम समझ कर डिलेट कर दिया जायेगा। धन्यवाद...

ब्लॉग-लिस्ट ब्राउसर