जनहित में जारी एक आवश्यक सूचना गोण्डा लाइव न्यूज एक प्रोफेशन वेब मीडिया है। जो समाज में घटित किसी भी घटना-दुघर्टना , समसामायिक घटना , राजनैतिक घटना क्रम , भ्रष्ट्राचार , सामाजिक समस्या , खोजी खबरे , संपादकीय , ब्लाग , सामाजिक हास्य , व्यंग , लेख , खेल ,कविता ,कहानी , किसान जागरूकता सम्बन्धित लेख आदि से सम्बन्धित खबरे ही प्रकाशित करती है। यदि आप अपना नाम देश-दुनिया में विश्व स्तर पर ख्याति स्थापित करना चाहते है। और अपने अन्दर की छुपी हुई प्रतिभा को उजागर कर एक नई पहचान बनाना चाहते है। तो ऐसे में आप आज से ही नही बल्कि अभी से ही बनिये गोण्डा लाइव न्यूज के एक सशक्त सहयोगी। और अपने आस-पास घटित होने वाले किसी भी प्रकार की घटनाक्रम पर रखे पैनी नजर। और उसे झट लिख भेजिए गोण्डा लाइव न्यूज के Email-news101gonda@gmail.com पर या सम्पर्क करें दूरभाष- 9452184131 -8303799009 पर । सादर धन्यवाद

13 अक्तू॰ 2019

प्याज के गुणकारी फायदे और नुकसान

Onion's beneficial advantages and disadvantages
Image SEO Friendly

प्याज के फायदे और नुकसान जो आपने अभी तक नहीं सुने होंगें यौन कमजोरी से लेकर हर मर्ज की दवा है प्याज, प्याज हमारे रसोई घर की प्रमुख जरूरत मानी जाती है। पौष्टिक गुणों से भरपूर होने के कारण प्‍याज के फायदे हमारे लिए बहुत अधिक होते है। अनियन में विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीवायोटिक, फाइबर जैसे घटक अच्छी मात्रा में उपलब्ध होते है। प्‍याज हमारे खाने का स्‍वाद बढ़ाने के साथ हमारे कई प्रकार के घातक रोग जैसे कि कैंसर, मधुमेह, मोटापा, उच्च रक्तचाप, अस्थमा आदि को दूर करने में मदद करती है। प्याज का इस्तेमाल स्वास्थ्य त्वचा और बालों के लिए लाभदायक होता है इस लेख में आप जानेंगे प्याज के फायदे और नुकसान  के बारे में।
प्‍याज के फायदे स्वास्थ्य, त्वचा और बालों के लिए –
अनियन में उपस्थित यौगिक हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होते है। प्‍याज में मुख्य रूप से एलियम और एलिल डाइसल्फाइड (Allium and allyl disulphide), फाइटोकेमिकल यौगिक होते है जो विभिन्न प्रकार के कैंसर को रोकने, शुगर लेवल को मेंटेन करने और कई प्रकार के संक्रमण को दूर करने में मदद करता है। प्याज का नियमित उपयोग कर हम बहुत से स्‍वास्‍थ्‍य लाभ ले सकते है।
प्‍याज खाने के फायदे –
01-प्‍याज के फायदे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में –
अनियन में बहुत से प्रतिरोधी गुण होते है जो कि हमारे लिए सुरक्षा घेरा तैयार करते है। एक अंतर्राष्‍ट्रीय अभिलेख 1990 के अनुसार जानकारी मिलती है कि प्‍याज में सल्‍फर प्रतिरोधक (Sulphurs anti-inflammatory) गुण होते है जो हमारे शरीर में सल्‍फर की मात्रा को बढ़ने से रोकते है। अमेरिकी जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी द्वारा 2013 में किये गए अध्‍ययन में बताया गया कि प्‍याज में कार्सोटिन (Quercetin) होता है जो श्वसन तंत्र की मांसपेशियों को आराम देता है। प्‍याज के कार्सोटिन अस्थमा के लक्षणों को भी दूर करने में मदद करता है। प्‍याज में उपस्थित पालीफेनाल (Polyphenal) एंटीऑक्‍सीडेंट का कार्य करता है। यह हानिकारक तत्वों के विरुद्ध हमारे शरीर की रक्षा करता है।
प्‍याज खाने के फायदे कैंसर के लिए –
गेलफ विश्‍वविद्यालय के अध्‍ययन बताते है कि लाल प्‍याज में कार्सेटिन और एंथोसाइनिन (anthocyanin) अच्छी मात्रा में होते है। इन दोनों यौगिकों की उपस्थिति के कारण प्‍याज स्तन कैंसर और कोलन कैंसर की कोशिकाओं को नष्ट करने में सफल मानी जाती है। प्‍याज के घटक हमारे शरीर में कैंसर जीवाणुओं के लिए प्रतिकूल स्थिति पैदा करते है। जॉर्ज मैटलजन फाउंडेशन के अनुसार प्‍याज का नियमित सेवन कोलोरेक्‍टल, लारेंजियल और डिम्‍बग्रंथि (Ovarian) के कैंसर को कम करने में मदद करता है। प्‍याज का सेवन करने से मुंह के कैंसर और एसोफेगल कैंसर (esophageal cancer) को रोकने में भी मदद मिलती है। यदि आप कैंसर की संभावनाओं को दूर करना चाहते है तो प्‍याज का सेवन कर सकते है।
प्‍याज के फायदे पाचन के लिए –
पाचन स्वास्थ्य को बनाए रखने में प्‍याज आपकी मदद करता है। प्‍याज में फाइबर बहुत अच्‍छी मात्रा उपस्थित होते है जो घुलनशील होते है। इन घुलनशील फाइबर को ओलिगोफ्रुक्टोस (oligofructose) कहा जाता है, यह आपकी आंतों में अच्छे बैक्‍टीरिया को स्वास्थ्य लाभ देकर उनके विकास में मदद करता है। एक अध्ययन में यह पाया गया कि ओलिगोफ्रूफ्रुक्टोस दस्‍त को रोकने में प्रभावी होता है। नेशनल ऑनियन ऐसोसिएशन द्वारा बताया गया है कि, प्‍याज में फाइटोकेमिकल्‍स (phytochemicals) हानिकारक बैक्‍टीरिया को नष्ट कर, गैस्ट्रिक अल्सर के खतरे को कम करने में मदद करता है।
प्‍याज के फायदे मधुमेह के लिए –
मधुमेह से ग्रसित लोगों के लिए प्‍याज का सेवन फायदेमंद हो सकता है। प्‍याज में क्रोमियम (chromium) होता है जो खून में शर्करा को नियंत्रित करता है। प्‍याज में सल्‍फर एंटी इनफ्लामेंशन गुण होते है, जो शरीर में सल्‍फर इंसुलिन को बढ़ाकर रक्‍त शर्करा को कम करने में मदद करते है। पर्यावरण स्‍वास्‍थ्‍य पत्रिका के अनुसार 2010 के एक अध्‍ययन से जानकारी मिलती है कि महुमेह रोग में प्‍याज पूरक औषधी का काम करती है। मधुमेह प्रकार 1 और प्रकार 2 वाले रोगीयों में लाल प्‍याज का सेवन करने के 4 घंटो बाद तक ग्‍लूकोज का स्‍तर सामान्‍य पाया गया। इस कारण डायबिटीज रोगी के लिए प्‍याज के फायदे बहुत अधिक होते है।
प्‍याज खाने के फायदे हड्डियों के लिए -
हड्डियों के विकास के लिए प्याज फायदेमंद होती है, यह पहले के अध्‍ययनों द्वारा प्रमाणित किया जा चुका है। प्‍याज का सेवन कर आप अपने उम्र से संबंधित ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) को रोक सकते है। सफेद प्‍याज में हड्डीयों को मजबूत करने वाले यौगिक उपस्थित होते है। आर्थराइटिस फाउंडेशन ने बताया है कि, प्‍याज में कार्सेटिन होता है जो आस्टियोआर्थराइटिस और रूमेटोइड (गठिया) ल्‍यूकोट्रियन, प्रोस्‍टाग्‍लैंडिन और हिस्‍टामइन्‍स की उपस्थिति को कम करने में मदद करता है। ल्‍यूकोट्रियन, प्रोस्‍टाग्‍लैंडिन और हिस्‍टामइन्‍स गठिया रोग में सूजन और दर्द को बढ़ाते है। गठिया के दर्द का उपचार के लिए प्‍याज के रस का सेवन करना फायदेमंद होता है।
प्‍याज के फायदे हाई ब्‍लडप्रेशर को नियंत्रित के लिए –
उच्‍च रक्‍त चाप को नियंत्रित करने के लिए प्‍याज का सेवन उपयोगी होता है। प्‍याज पर किये गए अध्‍ययन बताते है कि उच्‍च रक्‍त चाप बाले व्‍यक्तियों द्वारा प्‍याज का नियमित सेवन किया जाए तो यह उनके ब्‍लडप्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है।
प्‍याज खाने के फायदे मोटापा घटाने के लिए – 
अनियन का सेवन कर आप अपने बढ़े हुए वजन को कम कर सकते है। प्‍याज पर किये गए शोधों से पता चलता है कि यदि 12 सप्‍ताह तक प्‍याज का नियमित सेवन किया जाए तो यह आपके शरीर में वसा की मात्रा को कम कर सकती है जो आपके मोटापे का मुख्‍य कारण होता है। लेकिन चिकित्‍सकीय रूप से इसके अभी तक कोई प्रमाण नही है। ऐसा माना जाता है कि यह आपके मोटापे को कम करने का अच्‍छा माध्‍यम हो सकता है। यदि आप अपना वजन कम करना चाहते है तो प्‍याज का सेवन कर सकते है।
प्‍याज के फायदे कान दर्द के लिए –
Image SEO Friendly
पुराने समय से ही प्‍याज को कान दर्द निवारक के रुप में प्रयोग किया जा रहा है। चिकित्सकीय प्रमाण न होने के बाद भी बहुत से लोगों का मानना है कि, प्‍याज के रस कान दर्द को दूर कर सकता है। प्‍याज को हल्‍का गर्म करके उसका रस निकाल लें और उसे जिस कान में तकलीफ है उसमें कुछ बूंदे डालें। यह आपके कान दर्द को दूर करने में मदद करेगा।

संक्रमित कान में प्‍याज का रस का उपयोग मान्‍यताओं पर आधारित है, यह वैज्ञानिक रुप से प्रमाणित नहीं है। फिर भी यह माना जाता है कि यह उपयोगी होता है।
प्‍याज के फायदे यौन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए –
Image SEO Friendly
यौन स्‍वास्‍थ्‍य (Sexual health) के लिए प्‍याज एक आयुर्वेदिक औषधी का काम करती है। नपुंसकता और स्तंभन दोष जैसी समस्याओं को दूर करने की अदभुद क्षमता प्‍याज में होती है। यदि प्‍याज के रस में शहद को मिला कर सेवन किया जाए तो यह पुरुषों की प्रजनन क्षमता को बढ़ा सकती है। जो लोग नपुंसकता या यौन कमजोरी से ग्रसित है उनके लिए प्‍याज का उपयोग फायदेमंद हो सकता है।
प्‍याज खाने के फायदे बुखार के लिए -
Image SEO Friendly
बुखार को दूर करने के लिए प्‍याज का उपयोग किया जा सकता है। नाक से बहने वाले खून को रोकने में भी प्‍याज लाभकारी होती है। इसके लिए आप प्‍याज के धुंऐ का उपयोग कर सकते है।
प्‍याज के फायदे मासिक धर्म के समय –
मासिक धर्म के समय होने वाली परेशानियों से बचने के लिए प्‍याज का सेवन लाभकारी होता है। क्‍योंकि प्‍याज के पोषक तत्‍व लीवर को स्‍वस्‍थ्‍य रखते है और हानिकारक हार्मोन को हटाने में सहायता करते है। मासिक धर्म (Menstrual) के समय कैल्शियम की ज्‍यादा आवश्‍यक्‍ता होती है। प्‍याज में कैल्शियम अच्‍छी मात्रा में होता है जो कैल्शियम की कमी को पूरा करने में मदद कर सकता है।
प्‍याज के फायदे त्वचा के लिए –
अपनी त्वचा की देख रेख के लिए हम प्‍याज का उपयोग कर सकते है। प्‍याज हमारी त्‍वचा के हर प्रकार की समस्‍या को दूर करने में लाभकारी होती है। आइए जाने प्‍याज को उपयोग करने के तरीके जो हमारी त्‍वचा को निखारते है।
प्‍याज के फायदे त्‍वचा में ग्‍लो लाने के लिए – 
अनियन में विटामिन बहुत अधिक मात्रा में होते है जो हमारी त्वचा के लिए बहुत ही लाभकारी होते है। प्‍याज में विटामिन A, विटामिन C, और विटामिन E होते है जो हानिकारक तत्वों से हमारी त्वचा की रक्षा करते है। प्‍याज में एंटीसेप्टिक गुण होते है जो त्वचा कोशिकाओं को हानिकारक बैक्‍टीरिया के प्रभाव से बचाता है। आपकी त्वचा को चमक दिलाने के लिए विटामिन C उपयोगी होता है।

चेहरे पर चमक लेन के लिए प्‍याज फेस पेक: प्‍याज फेस पेक बनाने के लिए आपको थोड़ा सा आटा, एक प्‍याज का रस, आधा चम्‍मच दूध और एक चुटकी जायफल की आवश्‍यक्‍ता होती है।

आप इन सभी को आपस में अच्‍छी तरह मिला कर गाढ़ा लेप बना लें। यदि इस मिश्रण में अपको प्‍याज की गंध ज्‍यादा आ रही हो तो आप इसमें लैंवेडर तेल की कुछ बूंदे डाल सकते है। इस मिश्रण को आप अपने चेहरे और गर्दन में लगाए। चेहरे का लेप सूखने के बाद दूध से हल्‍की मालिश कर आप इसे हटा लें। यह फेस पेक आपके चेहरे में चमक लाता है।
प्‍याज के फायदे बढ़ती उम्र को रोके –
अनियन में एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन A, C और E होते है जो सूर्य विकिरण से होने वाले नुकसान से हमारी त्‍वचा की रक्षा करते है। प्‍याज में कार्सेटिन सबसे शक्तिशाली एंटी आक्सिडेंट होता है जो आपकी त्‍वचा में शिकन आने से रोकता है। इसमें उपस्थित विटामिन और सल्‍फर आपकी त्‍वचा में नमी बनाए रखने में मदद करते है।

त्वचा को जवां और चमकदार बनाने के लिए प्‍याज का उपयोग: प्‍याज के रस से आप अपनी त्‍वचा की मालिश करें यह त्‍वचा में रक्‍त परिसंचरण को बढ़ाती है। प्‍याज के रस का उपयोग कर आप अपनी त्‍वचा को जवां और चमकदार बना सकते है। प्‍याज त्‍वचा के संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी होती है।
प्‍याज के फायदे मुंहासों के इलाज में –
Image SEO Friendly
अनियन के एंटीमाइक्रोबायल, जीवाणुरोधी और प्रतिरोधक गुण आपकी त्‍वचा सौंदर्य को बढ़ाने में मदद करते है। प्‍याज के एंटीसेप्टिक गुण आपकी त्‍वचा में मुंहासे उत्‍पन्‍न करने वाले जीवाणुओं और अन्‍य त्‍वचा संक्रमण से बचाते है। मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए आप प्‍याज के रस में एक चम्‍मच जैतून का तेल मिला कर अपने चेहरे में इसे लगाएं। 20 मिनिट के बाद आप इसे साफ पानी से धो लें। ऐसा करने के अलावा आप प्‍याज का नियमित सेवन भी करते रहें यह आपके मुंहासों को दूर करने में लाभकारी होगा। कुछ लोगों का मानना है कि प्‍याज को चेहरे पर घिसने से ज्‍यादा फायदा होता है।
प्‍याज के फायदे तिल हटाने के लिए –
Image SEO Friendly
तिल को हटाने के लिए आप प्‍याज का उपयोग कर सकते है। प्‍याज में उपस्थित रसायनों की अम्‍लता तिल को दूर करने में मदद कर सकती है। इसके लिए आप प्‍याज के ताजे रस को तिल में लगाएं और इसे अवशोषित होने दें। ऐसा करने से लगभग एक माह में आपको तिल हटाने में सफलता मिल सकती है।
प्‍याज के फायदे बालों के लिए –
अनियन का उपयोग कर आप अपने बालों से संबंधित समस्‍याओं का उपचार प्रभावी ढ़ंग से कर सकते है। बालों पर प्‍याज का उपयोग करने के साथ ही प्‍याज के नियमित सेवन से भी बालों को पर्याप्‍त पोषण दिया जा सकता है। इस लेख में हम आपको बताते है कि बालों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए प्‍याज का उपयोग किस तरह कर सकते है।
प्‍याज के फायदे बालों को लंबा करने में – 
अनियन में बहुत से पोषक तत्‍व होते है जो बालों के विकास में महात्‍वपूर्ण योगदान देते है। प्‍याज में सल्‍फर और केराटिन होते है जो मजबूत बालों के लिए आवश्‍यक होते है। सिर पर प्‍याज के रस को लगाने से बाल मजबूत और मोटे होते है। इसमें उपस्थित सल्‍फर कोलेजन उत्‍पादन भी बढ़ाता है जो स्‍वस्‍थ्‍य त्‍वचा कोशिकाओं में वृद्धि करता है। आप अपने बालों को प्‍याज के रस से धो सकते है या प्‍याज के पेस्‍ट को अपने बालों में लगा सकते है। लगभग 20 मिनिट के बाद आप इसे साधारण रूप से या शैंपू का उपयोग कर साफ कर सकते है। यह आपके बालों को लंबा और चमकदार बनाता है।
अनियन के फायदे बालों के रंग के लिए – 
आप अपने बालें पर प्‍याज का रस लगा कर अपने बालों को सुनेहरा रंग देने के साथ उन्‍हें चमकदार बना सकते है। अपने बालों को प्राकृतिक रंग देने के लिए आप सरसों के तेल में प्‍याज के रस को मिलाकर उपयोग कर सकते है। यह आपके बालों को पोषण देने का सबसे अच्‍छा तरीका है।
प्‍याज रस के फायदे जूँ को दूर करने में –
अनियन में सल्फर होता है जो जूँ को खत्‍म करने में मदद करता है। इसके लिए आप 2-3 प्‍याज का पेस्‍ट बनाकर उससे रस निकाल लें। इस रस से आप आपने सिर में हल्‍के हाथों से मालिश करें और दो घंटों बाद गर्म पानी से अपने बालों को शैम्‍पू करें। बालों के सूखने के बाद आप इनमें बारीक कंघी का उपयोग करें।यह सिर से जूँ हटा देगा।
प्‍याज के नुकसान –
आइए जाने प्‍याज से होने वाले संभावित नुकसान कौन से है :
Image SEO Friendly

रक्त शर्करा को कम कर सकता है : प्‍याज आपके शरीर में रक्‍त शर्करा को कम कर सकता है। महुमेह रोगियों के लिए प्‍याज का अत्‍याधिक सेवन हानिकारक हो सकता है।
गैस्ट्रिक जलन : प्‍याज का उपयोग कई गैस्‍ट्रोइंटेस्‍टाइनल विकारों के उपचार में किया जाता है। लेकिन प्‍याज का अत्‍याधिक सेवन करने से गैस्ट्रिक जलन, उल्टी और मतली आदि समस्‍याओं का कारण हो सकता है।
त्‍वचा की जलन : कुछ लोगों त्‍वचा में प्‍याज के रस का उपयोग करने जलन अनुभव हो सकती है। इसलिए प्‍याज के रस का उपयोग करने से पहले त्‍वचा के छोटे से भाग पर इसका परीक्षण करना उचित होगा।
गर्भवती महिलाए : गर्भवती महिलाओं को प्‍याज का सेवन कम करना चाहिए क्‍योंकि इस अवस्‍था में प्‍याज का ज्‍यादा सेवन आपकी धड़कनों को बढ़ा सकता है जो उनके लिए खतरा बन सकता है।
सांसों की बदबू : प्‍याज की मजबूत गंध के कारण प्‍याज के सेवन के बाद आपके मुंह से बदबू आ सकती है जो सल्‍फार की अधिक मात्रा के कारण होता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया अपने वास्तविक नाम का प्रयोग करे । नाइस,थैक्स,अवेसम जैसे शार्ट कमेन्ट का प्रयोग न करे। कमेन्ट सेक्शन में किसी भी प्रकार का लिंक डालने की कोशिश ना करे। यदि आप कमेन्ट पालिसी का प्रयोग नही करेगें तो ऐसे में आपका कमेन्ट स्पैम समझ कर डिलेट कर दिया जायेगा। धन्यवाद...

ब्लॉग-लिस्ट ब्राउसर