जनहित में जारी एक आवश्यक सूचना गोण्डा लाइव न्यूज एक प्रोफेशन वेब मीडिया है। जो समाज में घटित किसी भी घटना-दुघर्टना , समसामायिक घटना , राजनैतिक घटना क्रम , भ्रष्ट्राचार , सामाजिक समस्या , खोजी खबरे , संपादकीय , ब्लाग , सामाजिक हास्य , व्यंग , लेख , खेल ,कविता ,कहानी , किसान जागरूकता सम्बन्धित लेख आदि से सम्बन्धित खबरे ही प्रकाशित करती है। यदि आप अपना नाम देश-दुनिया में विश्व स्तर पर ख्याति स्थापित करना चाहते है। और अपने अन्दर की छुपी हुई प्रतिभा को उजागर कर एक नई पहचान बनाना चाहते है। तो ऐसे में आप आज से ही नही बल्कि अभी से ही बनिये गोण्डा लाइव न्यूज के एक सशक्त सहयोगी। और अपने आस-पास घटित होने वाले किसी भी प्रकार की घटनाक्रम पर रखे पैनी नजर। और उसे झट लिख भेजिए गोण्डा लाइव न्यूज के Email-news101gonda@gmail.com पर या सम्पर्क करें दूरभाष- 9452184131 -8303799009 पर । सादर धन्यवाद

15 जन॰ 2020

क्या गर्भावस्था के दौरान मौखिक सेक्स सुरक्षित होता है

Is oral sex safe during pregnancy -
Image SEO Friendly

क्या गर्भावस्था के दौरान मौखिक सेक्‍स सुरक्षित होता है और क्या गर्भावस्था के दौरान मेरे पति की संभोग की इक्षा (सेक्स ड्राइव) बदलेगी? गर्भावस्‍था आपके और आपके साथी के लिए बहुत ही प्‍यारा और नाजुक अनुभव होता है। गर्भावस्‍था एक निश्चित प्रक्रिया है जो कि नौ महिनों तक चलती है। स्‍वाभाविक है कि गर्भावस्‍था का यह 9 माह का समय संभोग से दूर रहने के लिए यह लंबा समय होता है। इस समय महिलाओं की योनि में स्राव ज्‍यादा होने के कारण पुरुष अक्‍सर यौन संबंध बनाने से दूर भागते है। लेंकिन गर्भावस्‍था के समय यौन संबंध ज्‍यादा थकान भरा हो सकता है। इस कारण यौन संतुष्टि के लिए एक मात्र विकल्‍प मौखिक सेक्‍स ही बचता है। लेकिन कभी-कभी डाॅक्टर द्वारा गर्भावस्था के दौरान मौखिक  या गुदा संभोग के लिए मना किया जा सकता है।

डॉक्‍टरों के अनुसार गर्भावस्‍था के समय संभोग सुरक्षित है। लेकिन क्‍या मौखिक सेक्‍स करना चाहिए या नहीं। क्‍या यह आपकी प्रेगनेंसी को प्रभावित कर कर सकता है। गर्भावस्‍था के समय मौखिक सेक्‍स करने से पहले आपको इसके बारे में जान लेना आवश्‍यक है।

मौखिक सेक्‍स क्‍या है – 
Image SEO Friendly
मौखिक सेक्‍स एक प्रकार की योन गतिविधी है जिसमें एक साथी अपने दूसरे साथी के गुप्तांगों (Genitalia) पर अपने मुंह, होंठ या जीभ का इस्तेमाल कर उसे यौन सुख दिलाने का प्रयत्न करता है। ऐसा करने से लड़की की योनि में यौन उत्तेजना और उसे यौन सुख का अनुभव प्राप्त होता है। जबकि लड़के के लिंग (penis), अंडकोश की थैली (scrotum) और लिंग के आस-पास की चमड़ी को चूसा और चाटा जाता है। जो उसकी यौन संबंधों की कमी को दूर करता है।

गर्भावस्‍था के समय यौन संबंधों के नुकसान से बचने का सबसे अच्‍छा तरीका मौखिक सेक्‍स है। जो कि सु‍रक्षित और संपूर्ण दांपत्‍य सुख देता है।

क्‍या मौखिक सेक्‍स होने वाले बच्चे के लिए सुरक्षित है –
Image SEO Friendly
गर्भावस्था के समय मौखिक सेक्‍स सुरक्षित होता है। यह आपके बच्‍चे के लिए किसी प्रकार का खतरा नहीं बनता है। फिर भी आपको कुछ बातों का ध्‍यान रखना चाहिए।

क्‍या मौखिक सेक्‍स सुरक्षित होता है – 
Image SEO Friendly
मौखिक सेक्स सुरक्षित हो सकता है यदि आप या आपके साथी को किसी प्रकार का यौन संक्रमण (STD) ना हो। यदि आप दोनों में से कोई भी संक्रमित है, तो यह बच्चे और मां के लिए खतरा बन सकता है।

यदि आप पार्टनर के साथ ओरल सेक्‍स करना चाहते है, तो पहले उसकी जांच कराए। यदि आपका साथी को यौन संक्रमण (STD) नहीं है तो आप उसके साथ मौखिक सेक्‍स कर सकते है।

ओरल सेक्‍स करते समय अपने साथी की आदतों पर ध्‍यान दें –
Image SEO Friendly
ओरल सेक्‍स करते समय पुरूष साथी को सावधान रहना चाहिए। मौखिक सेक्‍स करते समय उसे ध्‍यान रखना चाहिए कि वह योनि को हवा में ज्‍याद उपर न उठाए। और ना ही योनि में अपने मुंह से हवा फूंके। ऐसा करने से यह रक्‍त वाहिका को अवरूध कर सकता है जो कि महिला और उसके बच्‍चे दोनों के लिए नुकसान दायक हो सकता है।

गर्भावस्‍था के समय संभोग से बेहतर होता है मौखिक सेक्स – 
गर्भाधारण के बाद शरीर में बहुत से परिवर्तन होते है, जो सूजन और दर्द दे सकते है। इस स्थिति में संभोग करने में दिक्‍कत हो सकती है। इस लिए ऐसे समय में मौखिक सेक्‍स ज्‍यादा सुख और आराम दायक हो सकता है।

प्रेगनेंसी के समय वीर्य निगलना ठीक है – 
गर्भावस्‍था के समय वीर्य निगलने से किसी प्रकार की हानि नहीं होती है। यदि आपके साथी को किसी प्रकार की यौन संक्रामित बीमारी से ग्रसित है तो उसका वीर्य आपके और आपके बच्‍चे को भी संक्रामित कर सकता है।

प्रेगनेंसी में मौखिक सेक्‍स करते समय पीठ पर वजन न दें – 
गर्भावस्‍था के समय लगभग 5 महिनों के बाद आपका गर्भाशय भारी हो जाता है। इस दौरान आपको मौखिक सेक्‍स करते समय अपने ऊपर ज्‍यादा वजन नहीं लेना चाहिए। ज्‍यादा वजन के कारण वीना कैवा (vena cava) नस दब सकती है जो आपके ब्‍लडप्रेशर के कम होने का कारण बन सकता है। ऐसी स्थिति में आपके बच्‍चे के लिए ऑक्‍सीजन की कमी हो सकती है।

गर्भावस्‍था के समय सेक्‍स से कब बचें –
गर्भावस्था के समय हमें सतर्क रहना चाहिए। गर्भावस्था के समय किसी प्रकार की दिक्‍कत हो तो डॉक्‍टर की सलाह लेना ज्‍यादा फायदेमंद होता है।

कुछ लोगों की यह गलत धारणा है कि प्रेगनेंसी के समय संभोग करने से गर्भपात (Abortion) हो सकता है। इस भ्रांति को दूर करना जरूरी है। गर्भाशय में बच्‍चे को अम्‍नीओटिक (amniotic) तरल और गर्भाशय की मजबूत मांसपेशियों द्वारा सुरक्षा दी जाती है। इस स्थिति में यौन गतिविधी किसी प्रकार का नुकसान नही पहुंचाती है।

गर्भावस्‍था के समय कुछ महिलाओं को संभोग पीड़ादायक या असहज लगता है। इस समय मौखिक सेक्‍स द्वारा यौन सुख प्रदान किया जा सकता है। गर्भावस्‍था के समय मौखिक सेक्‍स एक मात्र विकल्‍प होता है जब आपको संभोग की जरूरत होती हैं।

गर्भावस्था के शुरुआती 2-3 और अंतिम के 2-3 महीनों में योनि सेक्स (vaginal Sex) से बचना चाहिए यह अच्छी गर्भावस्था के लिए जरूरी होता है।

किसी भी प्रकार की भ्रांति अपने मन में ना लाए। मौखिक सेक्‍स हर तरह से सु‍रक्षित है यदि आप संक्रमित नही है तो। आप और आपके साथी की यौन संतुष्टि के लिए आप इसका प्रयोग कर सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अस्वीकरण-
आवश्यक सूचना-कृप्या ध्यान दे ! गोण्डा लाइव न्यूज पर दी हुई संपूर्ण जानकारी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गयी हैं। हमारा आपसे विनम्र निवेदन हैं की किसी भी सलाह अथवा उपाय को आजमाने से पहले अपने नजदीकी विषय विशेषज्ञ अथवा चिकित्सक से एक बार अवश्य संपर्क करे। किसी भी प्रकार या विषय की जानकारी या स्वास्थ्य से सम्बंधित जानकारी का आशय एंव इस वेबसाइट का उद्देश है कि आपको विभिन्न विषयो से जुडी जानकारिया सहित स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना और विभिन्न विषयो से जुडी जानकारियो सहित स्वास्थ्य से जुडी जानकारी मुहैया कराना हैं। आपके सम्बन्धित विषय विशेषज्ञ या चिकित्सक को आपकी विचारो व सेहत के बारे में इस वेबसाइट की अपेक्षा बेहतर जानकारी होती हैं और उनकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है ।


कृपया अपने वास्तविक नाम का प्रयोग करे । नाइस,थैक्स,अवेसम जैसे शार्ट कमेन्ट का प्रयोग न करे। कमेन्ट सेक्शन में किसी भी प्रकार का लिंक डालने की कोशिश ना करे। यदि आप कमेन्ट पालिसी का प्रयोग नही करेगें तो ऐसे में आपका कमेन्ट स्पैम समझ कर डिलेट कर दिया जायेगा। धन्यवाद...