जनहित में जारी एक आवश्यक सूचना गोण्डा लाइव न्यूज एक प्रोफेशन वेब मीडिया है। जो समाज में घटित किसी भी घटना-दुघर्टना , समसामायिक घटना , राजनैतिक घटना क्रम , भ्रष्ट्राचार , सामाजिक समस्या , खोजी खबरे , संपादकीय , ब्लाग , सामाजिक हास्य , व्यंग , लेख , खेल ,कविता ,कहानी , किसान जागरूकता सम्बन्धित लेख आदि से सम्बन्धित खबरे ही प्रकाशित करती है। यदि आप अपना नाम देश-दुनिया में विश्व स्तर पर ख्याति स्थापित करना चाहते है। और अपने अन्दर की छुपी हुई प्रतिभा को उजागर कर एक नई पहचान बनाना चाहते है। तो ऐसे में आप आज से ही नही बल्कि अभी से ही बनिये गोण्डा लाइव न्यूज के एक सशक्त सहयोगी। और अपने आस-पास घटित होने वाले किसी भी प्रकार की घटनाक्रम पर रखे पैनी नजर। और उसे झट लिख भेजिए गोण्डा लाइव न्यूज के Email-news101gonda@gmail.com पर या सम्पर्क करें दूरभाष- 9452184131 -8303799009 पर । सादर धन्यवाद

15 जन॰ 2020

गर्भावस्था के बाद पहला पीरियड कब आता है

When is the first period after pregnancy -
Image SEO Friendly

गर्भावस्था के बारे में बहुत सी बातें हैं जिनके बारे में आप जानना चाहती होगीं जैसे कि आपको अपने पीरियड से कम से कम नौ महीने की स्वतंत्रता है लेकिन आप शायद यह जानने के लिए उत्सुक हैं की डिलेवरी के बाद आपके मासिक धर्म चक्र के साथ क्या होगा। आपके मासिक धर्म की वापसी अक्सर निर्भर करती है कि आप स्तनपान कराती हैं या नहीं। और बच्चे के होने के बाद आपकी ज़िंदगी किस तरह की है, गर्भावस्था के बाद आपके पीरियड्स में कुछ बदलाव हो सकते है। आज इस लेख में आप जानेगी गर्भावस्था के बाद पहला पीरियड कब आता है और उससे जुड़ी जरुरी बातों को।

गर्भावस्था के बाद पहला पीरियड कब आता है – 
Image SEO Friendly
यदि आप स्तनपान नहीं करा रही हैं, तो आपका पीरियड आमतौर पर आपके बच्चे को जन्म देने के छह से आठ सप्ताह बाद लौट आएगा। यदि आप स्तनपान कराती हैं, तो मासिक धर्म के वापसी का समय बदल सकता है। कुछ महिलाएं जो विशेष रूप से स्तनपान कराती हैं, तब उनको तक तक पीरियड नहीं आता जब तक की वे स्तनपान कराती हैं। “विशेष स्तनपान” का अर्थ है कि आपका बच्चा केवल आपके स्तन के दूध को प्राप्त कर रहा है लेकिन दूसरों के लिए जो ऐसा नहीं करती है, यह दो महीने बाद वापस आ सकता है, चाहे वे स्तनपान करा रहीं हों या नहीं।

  • अगर आपका पीरियड जन्म देने के तुरंत बाद वापस लौटता है और आपकी पास नार्मल डिलीवरी हुई है , तो आपका डॉक्टर सुझाव दे सकता है कि आप शिशु के जन्म के बाद अपने पहले मासिक धर्म के दौरान टैम्पोन का इस्तेमाल न करें।
  • ऐसा इसलिए है क्योंकि आपका शरीर अभी भी खुद को ठीक कर रहा होता है, और टैंपोन संभवत: आघात पैदा कर सकता है।

क्यों स्तनपान कराने वाली महिलाओं को पीरियड जल्दी नहीं आता – 
आमतौर पर, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को शरीर में बनने वाले हार्मोन की वजह से जल्दी पीरियड नहीं आता है। प्रोलैक्टिन , होर्मोन जो की स्तनपान के लिए दूध का उत्पादन करने के लिए आवश्यक होता है, प्रजनन हार्मोन को कम कर देता है हैं। नतीजतन, आप निषेचन के लिए अंडे को उत्पन्न नहीं करती हैं। इस प्रक्रिया के बिना, सबसे अधिक संभावना होती है की आपका मासिक धर्म नहीं आएगा।

गर्भावस्था के बाद पहला पीरियड स्तन के दूध को प्रभावित करेगा –
जब आपका पीरियड वापस आता है, तो आप अपने दूध की आपूर्ति में कुछ बदलाव या स्तनपान के लिए आपके बच्चे की प्रतिक्रिया देख सकती हैं। हार्मोनल परिवर्तन जो आपके शरीर में आपकी माहवारी के कारण होते है वह भी आपके स्तन के दूध को प्रभावित कर सकते हैं

उदाहरण के लिए, आप अपने दूध की आपूर्ति में कमी हो सकती है हार्मोन में परिवर्तन आपके स्तन के दूध की स्वाद को प्रभावित कर सकता है और यह आपके बच्चे को कैसा स्वाद देता है हालांकि ये परिवर्तन आम तौर पर बहुत छोटे होते हैं , और आपके बच्चे को स्तनपान कराने की आपकी क्षमता को प्रभावित नहीं करना चाहिए।

जन्म नियंत्रण तरीके के बारे में – 
कुछ महिलाएं प्राकृतिक जन्म नियंत्रण पद्धति के रूप में स्तनपान का उपयोग करती हैं। पुनरुत्पादक स्वास्थ्य पेशेवरों के एसोसिएशन के मुताबिक, 100 महिलाओं में से केवल 1गर्भवती होती है जब वह बच्चे को केवल स्तनपान कराती है। हालांकि स्तनपान से आपकी प्रजनन क्षमता कम हो जाती है, लेकिन इसकी कोई पूर्ण गारंटी नहीं है कि आप फिर से गर्भवती नहीं होंगे।

यदि आप स्तनपान करा रही हैं और आपका पीरियड वापस आ जाता है, तो आप अब गर्भवती नहीं होने के लिए सुरक्षित नहीं हैं यह भी नोट करना महत्वपूर्ण है कि प्रजनन क्षमता की वापसी का अनुमान लगाना मुश्किल होता है। अपनी माहवारी शुरू होने से पहले आप ovulate करेंगी, इसलिए आपका पीरियड आने से पहले भी आप गर्भवती हो सकती है।

जो महिलाएं स्तनपान करा रही हैं, उनके लिए सुरक्षित और प्रभावी जन्म नियंत्रण विधियां उपलब्ध हैं। कॉपर टी (आईयूडी) , कंडोम और डायाफ्राम जैसे गैर-हार्मोनल विकल्प स्तनपान के लिए हमेशा सुरक्षित होते हैं।

कुछ हार्मोनल जन्म नियंत्रण विकल्प भी हैं जो स्तनपान के दौरान सुरक्षित माने जाते है। आपका डॉक्टर विशिष्ट प्रकार के जन्म नियंत्रण पर नवीनतम अपडेट प्रदान कर सकता है। आम तौर पर, low dose combination pills जिसमें एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टिन होते हैं, उन्हें जन्म के बाद सुरक्षित माना जाता है। स्तनपान कराने के दौरान केवल प्रोजेस्टिन वाली गोलियां उपयोग करने के लिए सुरक्षित हैं

बच्चे को जन्म देने के बाद जरूरी बातें – 
आपके मासिक धर्म चक्र में वापसी आपकी प्रीग्रेंन्सी के लिए खुद को तैयार कर रही है। कुछ में, स्तनपान के साथ जुड़े हार्मोन की वृद्धि के कारण मासिक धर्म में देरी हो सकती है

गर्भनिरोधक के एक रूप के रूप में स्तनपान करना सही नहीं होता है। इसके लिए आप एक बैकअप विधि पर, जैसे मौखिक गर्भनिरोधक या कंडोम, का उपयोग सुरक्षा प्रदान करने में सहायता कर सकते हैं।

गर्भावस्था के बाद अपने पहले पीरियड के बारे में यदि कुछ भी सामान्य नहीं है, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। अतिरिक्त खून बहना या संक्रमण के संकेत को जानना विशेष रूप से एक नए माता पिता के लिए जरूरी होता हैं इसलिए अपने शरीर पर ध्यान दें और उसे सुरक्षित रखें।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अस्वीकरण-
आवश्यक सूचना-कृप्या ध्यान दे ! गोण्डा लाइव न्यूज पर दी हुई संपूर्ण जानकारी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गयी हैं। हमारा आपसे विनम्र निवेदन हैं की किसी भी सलाह अथवा उपाय को आजमाने से पहले अपने नजदीकी विषय विशेषज्ञ अथवा चिकित्सक से एक बार अवश्य संपर्क करे। किसी भी प्रकार या विषय की जानकारी या स्वास्थ्य से सम्बंधित जानकारी का आशय एंव इस वेबसाइट का उद्देश है कि आपको विभिन्न विषयो से जुडी जानकारिया सहित स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना और विभिन्न विषयो से जुडी जानकारियो सहित स्वास्थ्य से जुडी जानकारी मुहैया कराना हैं। आपके सम्बन्धित विषय विशेषज्ञ या चिकित्सक को आपकी विचारो व सेहत के बारे में इस वेबसाइट की अपेक्षा बेहतर जानकारी होती हैं और उनकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है ।


कृपया अपने वास्तविक नाम का प्रयोग करे । नाइस,थैक्स,अवेसम जैसे शार्ट कमेन्ट का प्रयोग न करे। कमेन्ट सेक्शन में किसी भी प्रकार का लिंक डालने की कोशिश ना करे। यदि आप कमेन्ट पालिसी का प्रयोग नही करेगें तो ऐसे में आपका कमेन्ट स्पैम समझ कर डिलेट कर दिया जायेगा। धन्यवाद...